प्रोत्साहन योजनाएं

केंद्रीय हिंदी प्रशिक्षण संस्‍थान/हिंदी शिक्षण योजना की परीक्षाएँ उत्‍तीर्ण करने पर केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों को मिलने वाले वित्‍तीय प्रोत्‍साहन (वैयक्‍तिक वेतन, नकद पुरस्‍कार, एकमुश्‍त पुरस्‍कार आदि)


  • 1. वैयक्‍तिक वेतन– हिंदी भाषा, हिंदी शब्‍द संसाधन/हिंदी टंकण एवं हिंदी आशुलिपि की परीक्षाएँ उत्‍तीर्ण करने पर केंद्र सरकार के अधिकारियों/कर्मचारियों को 12 महीने की अवधि के लिए एक वेतन वृद्धि के बराबर का वैयक्‍तिक वेतन दिया जाता है।

    (क) प्रबोध परीक्षा– वैयक्‍तिक वेतन केवल उन्‍हीं अराजपत्रित कर्मचारियों को दिया जाता है जिनके लिए प्रबोध पाठ्यक्रम अंतिम पाठ्यक्रम के रूप में निर्धारित किया गया है और जो इस परीक्षा को 55 प्रतिशत या अधिक अंक लेकर उत्‍तीर्ण करते हैं। राजपत्रित अधिकारियों को प्रबोध परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर वैयक्‍तिक वेतन नहीं दिया जाता है।

    [का0ज्ञा0 सं0-12014/2/76-रा0भा0 (डी.) दिनांक 2.9.1976—पैरा 1(3)]

    (ख) प्रवीण परीक्षा– वैयक्‍तिक वेतन केवल उन्‍हीं अधिकारियों/कर्मचारियों को दिया जाता है जिनके लिए प्रवीण पाठ्यक्रम अंतिम पाठ्यक्रम के रूप में निर्धारित किया गया है-
    (1) अराजपत्रित कर्मचारियों को 55 प्रतिशत या अधिक अंक लेकर प्रवीण परीक्षा उत्तीर्ण करने पर।
    (2) राजपत्रित अधिकारियों को 60 प्रतिशत या अधिक अंक लेकर प्रवीण परीक्षा उत्तीर्ण करने पर।

    [(का0ज्ञा0सं012014/2/76-रा0भा0(डी.)/दिनांक 2.9.1976—पैरा 1(2)]

    (ग) प्राज्ञ परीक्षा- वैयक्‍तिक वेतन केवल उन्‍हीं सरकारी अधिकारियों/ कर्मचारियों (राजपत्रित /अराजपत्रित) को प्राज्ञ परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर दिया जाता है। जिनके लिए यह पाठयक्रम अंतिम पाठ्यक्रम के रूप में निर्धारित किया गया है।
    (1) अराजपत्रित कर्मचारियों को उत्‍तीर्णांक लेकर प्राज्ञ परीक्षा उत्तीर्ण करने पर।
    (2) राजपत्रित अधिकारियों को 60 प्रतिशत या अधिक अंक लेकर प्राज्ञ परीक्षा उत्तीर्ण करने पर।

    [(का0ज्ञा0सं0- 12014/2/76-रा0भा0(डी.)/दिनांक 2.9.1976—पैरा 1(1)

    तथा का0ज्ञा0सं0- 12014/1/78-रा०भा०(डी.) दिनांक 14.2.1979)]

    (घ) हिंदी शब्द संसाधन/हिंदी टंकण– हिंदी शब्द संसाधन / हिंदी टंकण की परीक्षा उत्‍तीर्ण करने वाले केंद्र सरकार के अराजपत्रित कर्मचारियों को एक वेतन वृद्धि के बराबर 12 महीने की अवधि के लिए वैयक्‍तिक वेतन दिया जाता है। इसके अतिरिक्‍त सहायक, अनुवादक, प्रवर श्रेणी लिपिक तथा प्रवर लेखा परीक्षक, जिनके लिए हिंदी टंकण का प्रशिक्षण अनिवार्य नहीं है पर उपयोगी है, को अवर श्रेणी लिपिकों की भांति ही उक्‍त वित्‍तीय प्रोत्‍साहन तथा अन्‍य सुविधाएँ इस संबंध में जारी की गई विभिन्‍न शर्तों के अधीन दी जाती हैं।

    [(का0ज्ञा0सं0 12014/2/76-रा0भा0(डी.)/दिनांक 2.9.1976—पैरा 1(4)]

    तथा (का0ज्ञा0सं0-12016/2/78-रा0भा0(डी.) दिनांक 10.1.1979 क्रमसंख्‍या-92)

    (ङ) हिंदी आशुलिपि– (i) अराजपत्रित हिंदी भाषी आशुलिपिकों को हिंदी आशुलिपि की परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर 12 महीने के लिए एक वेतन वृद्धि, जो आगामी वेतन वृद्धि में मिला दी जाती है, के बराबर वैयक्‍तिक वेतन दिया जाता है।
    (ii) राजपत्रित आशुलिपिकों को 90 प्रतिशत या अधिक अंक लेकर हिंदी आशुलिपि परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर वैयक्‍तिक वेतन दिया जाता है। जिन आशुलिपिकों (राजपत्रित एव अराजपत्रित दोनों) की मातृभाषा हिंदी नहीं है, उन्‍हें हिंदी आशुलिपि की परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर दो वेतन वृद्धियों के बराबर वैयक्‍तिक वेतन दिया जाता है। ये वेतन वृद्धियां भावी वेतन वृद्धियों में मिलाई जाएँगी। ऐसे कर्मचारी पहले वर्ष दो वेतन वृद्धियों के बराबर और दूसरे वर्ष पहली वेतन वृद्धि को मिला दिए जाने पर केवल एक वेतन वृद्धि के बराबर वैयक्‍तिक वेतन प्राप्‍त कर सकते हैं।

    [(का0ज्ञा0सं0-12014/2/76/रा0भा0(डी.) दिनांक 2.09.1976—पैरा 1(5)(क) व (ख) तथा पैरा 2)]


    टिप्पणी: जिस कर्मचारी को सेवाकालीन हिंदी प्रशिक्षण से छूट मिली हुई हो उस कर्मचारी को संबंधित परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर किसी प्रकार के वित्तीय लाभ/ प्रोत्साहन नहीं मिलेंगे।

    2 नकद पुरस्‍कार– हिंदी प्रबोध, प्रवीण, प्राज्ञ, हिंदी शब्द संसाधन/हिंदी टंकण और हिंदी आशुलिपि की परीक्षाएँ अच्‍छे अंकों से उत्‍तीर्ण करने पर पात्रता के अनुसार निम्‍नलिखित नकद पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं, जिनकी वर्तमान दरें निम्‍नानुसार हैं-
    (1) प्रबोध
    1.70 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्‍त करने पर1600/-
    2.60 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 70 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर800/-
    3.55 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 60 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर 400/-
    (2) प्रवीण
    1.70 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्‍त करने पर1800/-
    2.60 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 70 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर1200/-
    3.55 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 60 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर 600/-
    (3) प्राज्ञ
    1.70 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्‍त करने पर2400/-
    2.60 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 70 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर1600/-
    3.55 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 60 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर 800/-
    (4) हिंदी शब्द संसाधन/हिंदी टंकण
    1.97 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्‍त करने पर2400/-
    2.95 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 97 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर1600/-
    3.90 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 95 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर 800/-
    (5) हिंदी आशुलिपि
    1.95 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्‍त करने पर2400/-
    2.92 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 95 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर1600/-
    3.88 प्रतिशत या इससे अधिक परंतु 92 प्रतिशत से कम अंक प्राप्‍त करने पर 800/-
    (6) निजी प्रयत्‍नों से हिंदी शिक्षण योजना की हिंदीभाषा, हिंदी शब्द संसाधन/हिंदी टंकण एवं हिंदी आशुलिपि परीक्षाएँ उत्‍तीर्ण करने पर एकमुश्‍त पुरस्‍कार
    1.हिंदी शिक्षण योजना की प्रबोध परीक्षा1600/-
    2.हिंदी शिक्षण योजना की प्रवीण परीक्षा1500/-
    3.हिंदी शिक्षण योजना की प्राज्ञ परीक्षा 2400/-
    4.हिंदी शिक्षण योजना की हिंदी शब्द संसाधन/ हिंदी टंकण परीक्षा1600/-
    5.हिंदी शिक्षण योजना की हिंदी आशुलिपि परीक्षा3000/-

    (का0ज्ञा0सं0- 21034/66/10-रा0भा0 (प्रशि) दिनांक 29.7.2011)

    टिप्पणी:
    1. जिन कर्मचारियों को हिंदी के सेवाकालीन प्रशिक्षण से छूट प्राप्‍त है उन्‍हें संबंधित स्‍तर की हिंदी परीक्षा उत्‍तीर्ण करने पर नकद एवं एकमुश्‍त पुरस्‍कार देय नहीं होंगे।
    2. एकमुश्त पुरस्‍कार प्रचालन कर्मचारियों के अतिरिक्‍त केवल उन्‍हीं कर्मचारियों को दिया जाएगा जो ऐसे स्‍थानों पर तैनात हैं जहाँ हिंदी शिक्षण योजना के प्रशिक्षण केंद्र नहीं हैं अथवा जहाँ संबंधित पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण की व्‍यवस्‍था नहीं है।
    3. जो प्रशिक्षार्थी निजी प्रयत्‍नों से हिंदी शिक्षण योजना की हिंदी भाषा, हिंदी शब्द संसाधन/हिंदी टंकण एवं हिंदी आशुलिपि परीक्षाएँ उत्तीर्ण करते हैं उनको एक मुश्त पुरस्कार के अलावा नकद पुरस्कार प्रदान करते समय निर्धारित किए गए प्रतिशत से पाँच प्रतिशत अंक कम प्राप्‍त करने पर भी नकद पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी।

    (का0ज्ञा0सं0- 21034/66/2010/रा0भा0(प्रशि0). दिनांक 29.07.2011)